You are currently viewing क्या दिल की नीयत ही टूटने की होती है- Pyar mein dil kyu tut jata hai

क्या दिल की नीयत ही टूटने की होती है- Pyar mein dil kyu tut jata hai

Share now
Pyar mein dil kyu tut jata hai- यह एक जटिल समस्या है, आज के युवा प्यार टूट जाने के कारण डिप्रेस्ड हो जाते है और सोचते है, why me got breakup in love, अगर एसा सवाल आप के मन में आता है तो आप सही है
 

ब्रेकअप क्यों होता है – Pyar mein dil kyu tut jata hai-

आज के हाईटेक समय में ब्रेकअप होना लाजमी है, हर कोई पुरानी वस्तु से एक समय आते आते उब जाता है। यह मानव जीवन का स्वभाव है। लोग प्यार में भी यही विचार apply करते है। और एक समय आते आते अपने उन रिश्तों से मुंह मोड़ लेते है।

जिसके लिए वो दुनिया भर की कस्मे और वादे करते थे। आखिर रिश्ता तोड़ते समय वो उन लम्हों और बात को क्यों नहीं याद करते है। इसका मुख्य reason आपके प्रति उनका रुचि खत्म हो गया है।
 
क्या दिल की नीयत ही टूटने की होती है- Pyar mein dil kyu tut jata hai
 
अगर आप चाहते है हमारे रिश्ते बिल्कुल वैसे ही रहे जैसे कि पहले थे तो आप क्यों एक जगह अटके पड़े है। आपने कुछ नया पन क्यों नहीं आ रहा है । कभी आपने सोचा। कौन आप वैसे ही प्यार करेगा जैसे की पहले आप थे।
 
एक समय आते आते मा बाप तक आपसे प्यार करना बन्द कर देते है। इसका reason आपको पता ही है गया होगा। क्योंकि आपने कोई भी growth नही रही। जिसमे growth ना हो उस पौधे से मोहब्बत किसको होगा। एक समय आते आते उखाड़ कर फेंक देते है।
 
ऐसे में please अपने जीवन को सिर्फ उनको ना समर्पित करो जो आपसे आज बात करना तक बन्द कर दिए। जीवन में त्थस्य रहिए। इसका मतलब है, अगर कोई आपको आज अपनाने से इंकार कर दिया तो कोई बात नहीं , आप भी उसको दिल से निकाल दीजिए। वो कुछ भी करे । कैसे भी रहे । कितना भी girlfreind ब्वॉयफ्रैंड बनाए ।
 
 
आपसे कोई मतलब नहीं होना चाहिए। अगर आपको किसी से मतलब रखना है तो आप सिर्फ आपने आप से रखिए। उसके किरदार को भूल जाइए। किसी के पीछे जिंदगी बर्बाद करने से बढ़िया है। खुद को बदलो और मजबूत विचार रखिए।
 
 
प्यार एक सवारी की तरह है अगर जा रहा है तो जाने दो, दूसरी बस का इंतजार करिए , नकी उसके पीछे भागकर खुद को बेवकूफ बनाए। क्युकी जितना भी भाग ले मिलना नहीं है। ऐसे में आप धैर्य रखिए। जरूर आपको प्यार मिलेगा।
 

क्या दिल की नीयत ही टूटने की होती है-

यह काफी अच्छा सवाल है, लोग मोहब्बत तो करते है और दिल टूट जाता है। वो भी बार बार एसा ही होता है। ऐसे में अशिको के मन में सवाल आता है, आखिर प्यार क्यों नहीं लंबे समय तक चलता है। और हमेशा टूट क्यों जाता है।
 
मेरे प्यारे अशिको दिल नहीं टूटता है। सिर्फ आपके जज्जबात टूट जाते है। आपके वो सपने टूट जाते है जो आपके अपनी महबूबा से अपेक्षा करते है। आखिर आपने प्यार किया है तो इतनी अपेक्षा क्यों होती है। और जब हमारी अपेक्षाएं टूट जाती है। 
 
तो वो मन तन और आंखें तक नम हो जाती है। एसे में आप अपने आपको समझने का प्रयास करे। और एक अच्छी सोच के साथ किसी से जुड़े। अगर आपका साथी वास्तव में आपके काबिल होगा तो आपसे कभी नहीं मुंह मुड़ेगा।
 

क्या वास्तव में दिल टूट जाता है- Pyar mein dil kyu tut jata hai

 
जब हमारी फीलिंग और अपेक्षाये टूटती है तो वास्तव में प्रतीत होता है कि हमारा संसार उजाड़ जाता है।और हम पूरी तरह से गम में चले जाते है। कई लोग तो एसे होते है, जो सहन नहीं कर पाते है। और खुद को मौत के हवाले कर देते है। जोकि बेहद गलत है। आपके जीवन में वही important नहीं है। और भी लोग है जो आपको उससे ज्यादा प्यार करते आए है।
 

क्या टूटे हुए दिल को प्यार में जोड़ा सकता है-

 
टूटे हुए दिल को अक्सर फिर से उस लेवल पर प्यार करते देखा गया है जो की पहले बेस्ट होता है। ऐसा कुछ नहीं कि किसी का दिल टूट जाए तो वो दुबारा से अपने अंदर किसी के प्रति प्यार नहीं ला सकता है। जबकि वो और ही बेहतर तरीके से जिंदगी जीने लगता है। और खुद को प्यार का संगम बना देता है। जिससे कि जीवनसाथी और भी फिदा रहती है।

दिल टूटने पर कैसा लगता है-

दिल टूटने पर लगता है, मानो सरी दुनिया मुझसे नज़रे फर ली है। अब ये सांसारिक वाडिया भी हमे दुख दे रही है। और सारे लक्ष्य से भटक जाते है। अगर हमे कुछ ध्यान रहता है तो वो प्रेमी प्रेमिका।
 
दिल टूटने के बाद हम अपने आप से हीं भावना रखने लगते है। लगता है हम उसके काबिल नहीं थे तभी उसने हमें नकार दिया। और किसी और की हो गई। और हमारे जेहन में नेगेटिव चीजे घर बना लेती है। ऐसे में आप इससे बचें। नहीं तो घातक हो सकता है। और लोग जान तक गवा देते है।
दिल टूटने के बाद लड़का और लड़की के व्यवहार में क्या अंतर आता है-
अगर आप ये जानना चाहते है कि दिल टूटने के बाद लड़का और लड़की के व्यवहार में क्या अंतर आता है। तो आप सही जगह है। जब भी किसी लड़के और लड़की का दिल टूटता है तो दोनों के व्यहार में काफी परिवर्तन आ जाते है।
 
  • लड़के और लड़की बड़े ही उदार हो जाते है।
  • दोनों में एक अलग सोचने और समझने की शक्ति आ जाती है।
  • दिल टूटने के बहुत ही मैच्योर हो जाते है।
  • उनको किसी से सहयोग की भावना ज्यादा होती है।
  • हमेशा अकेले अकेले रहना पसंद करते है।
  • उनके अंदर इतनी शक्ति आ जाती है, वो दिल टूटने के बाद जो चाहे आसानी से पूरा कर सकते है। जिसका प्रमाण भी रहा है।
  • दिल टूटने के बाद बड़े ही भावुक किस्म के हो जाते है
  • जरा सी बात पर रो देते है।
  • सबके प्रति काफी दयालु हो जाते है।
  • हर बात दिल से बोलने लगते है।
  • हमेशा genumin चीज को ही value देते है।
  • फर्जी बातों से इनको नफरत हो जाता है।
  • दिल टूटने के बाद सबसे ज्यादा एक दूसरे केवलिए रोते है।
  • फिर बाद में काफी मजबूत हो जाते है ।
 
जब कोई दिल तोड़ दे तो क्या करे-
 
जब कोई आपका दिल तोड़ दे तो उसके पीछे भागने से अच्छा है खुद को समझाओ और अपनी जिंदगी में न्यू टर्न ले लो। और अपने काम प्र फोकस करना सुरु कर दो।
 
और उसको उन्हीं के हाल पर छोड़ दो। जैसे भी खुश रहना चाहे रहे पूरी तरह से ताथस्य हो जाइए। कुछ भी कैसे भी रहे आपको उसपर किसी भी तरह का ध्यान नहीं लगाना चाहिए।
 
एसा करने से आप देख पाएंगे आपके जीवन में एक नया सबेरा हुआ है और अब आप एक बेहतर मनुष्य बन रहे है।
 
 
अगर आपको यह पोस्ट अच्छा लगा तो है to अपना सुझाव कॉमेंट में जरूर दे। मैं रिप्लाई जरूर करूंगा।
 

Leave a Reply