You are currently viewing 10 eyes care tips hindi-आँखों की देखभाल कैसे करे।

10 eyes care tips hindi-आँखों की देखभाल कैसे करे।

Share now

eyes care tips hindi- आंख हमारे जीवन का अभिन्न अंग है। जिसके द्वारा हम सुंदर नजारे को देखते है। इस खूबसूरत दुनिया का लुफ्त उठाते है। जिंदगी के सारे कामों को आसानी से समाप्त कर लेते हैं। ऐसे में आंखों का का देखभाल करना हमारा कर्तव्य होता है।

eyes care tips hindi

आज हम इस पोस्ट में आप सबको आंख से जुड़े टिप्स (eyes tips in hindi) बताएंगे, अपनी आंखों को सुरक्षित रखने के लिए कैसी सावधानियां करनी चाहिए? अपने आंखों के रोशनी को लंबे समय तक बनाए रखने के लिए किन बातों का ध्यान रखना चाहिए?

eyes care tips बहुत ही बेहतरीन ढंग से देंगे। ऐसे में आप से अनुरोध है आप इस पोस्ट को पूरा पढ़कर अपने आंख की सेफ्टी जरूर करें।



आँखों के लिए कौन सी डिस्प्ले हानिकारक है?- eyes care health in hindi



वैसे तो सभी डिस्प्ले हमारी आंखों के लिए हानिकारक होते हैं l लेकिन इनमें से कुछ डिस्प्ले औरों की तुलना में कम हानिकारक साबित होते हैं। जैसे एलइडी डिस्पले में ब्लू लाइट कम करने के लिए सॉफ्टवेयर मौजूद होते हैं।

जिसकी मदद से आंखों को हानि पहुंचाने वाले ब्लू लाइट को कम किया जा सकता है। लेकिन हमें कम से कम टीवी, मोबाइल, फोन, लैपटॉप का यूज़ करना चाहिए।



मोबाइल और लैपटॉप की स्क्रीन से आंखों को बचाने के लिए कौन सी सावधानी करना चाहिए- tips for eye care in hindi



eyes care tips- आपको बता दें कि मोबाइल और लैपटॉप के स्क्रीन से ब्लू लाइट निकलती है। जो हमें स्ट्रेस प्रदान करते हैं। ब्लू लाइट से हमारी आंखों में dry eyes, fatigue, strain, blurred vision हो जाती है। इससे बचने के लिए हमें मोबाइल या लैपटॉप को अंधेरे में नहीं चलाना चाहिए। मोबाइल चलते समय कमरे में पीले रंग का बल्ब को ऑन रखें।

और आँखों को dry eyes, strain, blurred vision, fatigue से बचाने के लिए आपको एक चश्मा खरीदना होगा जिसका नाम है ( blue ray cut glasses ) ये चश्मा लगाने से मोबाइल, टीवी, लैपटॉप से निकलने वाली ब्लू लाइट से हमारी आंखे सुरक्षित रहेगी।

ऐसे में अगर आप लैपटॉप और मोबाइल चलाने के हैबिचुअल हो चुके हैं। या आपका मोबाइल और लैपटॉप चलाने के लिए मजबूरी है। तो आप ब्लू रे कट ग्लास(Blue ray cut glass) वाला चश्मा जरूर बनवा लीजिए। जिससे अपनी आंखों को सेफ्टी रखने में मदद मिलेगी।

eyes care tips- जब भी चश्मा बनवाने के लिए जाएं। तो दुकानदार को अपनी जरूरत के अनुसार सारी बात बताएं । वह आप के चश्मे को बनाने के बाद ब्लू लाइट टॉर्च के माध्यम से आपके सामने चेक करके दिखा देगा।



आंखों को स्वस्थ रखने के लिए कौन सा विटामिन जरूरी होता है- what vitamin is important for eye care.



eyes care tips- आंखों को स्वस्थ रखने के लिए विटामिन सी बेहद महत्वपूर्ण होता है। विटामिन सी में एंटीआक्सीडेंट पाया जाता है। जो आंखों को स्वस्थ बनाए रखने के लिए फायदे मंद रहता है।

अगर हम लगातार विटामिन सी लेते रहते हैं। तो हमें मोतियाबिंद जैसे भयानक रोग नहीं होते हैं। विटामिन सी पाने के लिए हरी सब्जियां, खट्टे फल, काली मिर्च आदि को रेगुलर खाना चाहिए।

इसके अलावा विटामिन ई भी आंखों के लिए महत्वपूर्ण रोल अदा करता है। विटामिन ए की कमी से आंखों में धुंधलापन कम दिखाई देना और मोतियाबिंद की समस्या होने लगती है।

ऐसे में विटामिन ए की पूर्ति के लिए आपको अखरोट, बदाम, जैतून का तेल, सूरजमुखी का तेल और मूंगफली को अपने आहार में शामिल करना चाहिए।

हम छोटी-छोटी चीजों को ध्यान रखकर अपने शरीर के महत्वपूर्ण इंद्रियों में से एक आंख को सुरक्षित रख सकते हैं।

eyes care tips- विटामिन ए आंखों के लिए महत्वपूर्ण होता है। विटामिन ए की कमी से आंखों में अंधापन होना, दूर और नजदीक की चीज साफ दिखाई न देना, आदि समस्या होने लगती है।

विटामिन ए वसा में घुलनशील होता है। यह खाद्य पदार्थों में नेचुरल फॉर्म में पाया जाता है। जैसे गाजर, शकरकंद, मटर, चुकंदर, शलजम, हरे पत्ते वाली सब्जियां, आम, अमरूद, पपीता, पनीर, राजमा, अंडा आदि में पाया जाता है।



आंखों को दर्द को ठीक करने के लिए क्या करें- how to overcome eyes pain 

 

eyes care tips hindi



eyes care tips- जब हमारा पूरा जीवन का कामकाज लैपटॉप और मोबाइल पर निर्भर हो जाता है। तो हमारी आंखों में दर्द, जलन, तनाव, आंखों में कुछ होने का एहसास होना, आंखों का लाल होना आदि प्रॉब्लम आ जाता है।

खैर यह प्रॉब्लम किसी भी वजह से हो सकता है । कई बार यह प्रॉब्लम आम होता है, लेकिन कभी-कभी गंभीर रूप ले लेता है। ऐसे में आंखों की देखभाल के लिए हमें इन बातों पर जरूर अमल करना चाहिए।

  • खीरा का प्रयोग- tips for remove eye pain

यदि आंखों में अत्यधिक दर्द जलन होता है। जिसकी वजह से आप मानसिक तनाव में रहते हैं। ऐसे में आपके लिए खीरा रामबाण साबित हो सकता है। खीरे को फ्रिज में काट कर रख दें।

उसके बाद आंखों पर ठंडा कटा हुआ खीरा कुछ देर तक रखें। जिससे आंखों का दर्द, जलन तुरंत खत्म हो जाएगा। खीरे के ठंडे प्रभाव से आंखों का दर्द और मानसिक तनाव भी कम हो जाता है।
आंखों के लिए आलू का प्रयोग

खीरे की तरह आलू का कटा हुआ भाग फ्रिज में रखें। आलू को आंख पर कुछ देर तक रखे रहे। इससे आपकी आंखों का दर्द, जलन और सूखापन खत्म होता है। आप तुरंत राहत महसूस करेंगे।

  • गुलाब जल- eye tips for gulaab jal


गुलाब जल आंखों के लिए वरदान साबित होता है। गुलाब जल से आंखों के सूखापन, दर्द और तनाव से राहत मिलता है। और आंखों में एक नई ताजगी आ जाती है। जिससे हमारी आंखों का दर्द मिनटों में गायब हो जाता है।

गुलाब जल का प्रयोग हर किसी को आंख के दर्द को कम करने के लिए करना चाहिए। अगर आपकी आंखों में ज्यादा दर्द होता है। तो आपको गुलाब जल का प्रयोग सुबह शाम नियमित रूप से करना चाहिए।

गुलाब जल का प्रयोग कैसे करें, इस पर भी आइए जानते हैं? गुलाब जल की दो बूंद आंख में सुबह शाम डालना चाहिए।

  • शहद- eye tips for freshness

शहद भी आंखों के लिए बेहद लाभकारी होता है। आंखों में यदि जलन, दर्द या सुखापन महसूस होता है। तो शहद की एक बूंद आंखों में जरूर डालें।

जिससे आंख को हेल्दी बनाए रखने में मदद मिलेगी। और आपका दर्द भी कम हो जाएगा। हालांकि शहद की एक बूंद डालने पर आपको जलन महसूस होगा। लेकिन इससे डरे नहीं, यह कुछ समय बाद नॉर्मल हो जाएगा।

  • अनार के पत्ते- tips for overcome pain of eye


अनार के पत्ते को का पेस्ट बना लें। उसके बाद पेस्ट को आंखों के चारों तरफ लगा ले। इससे आंखों के दर्द और तनाव में तुरंत राहत मिलेगा। लेकिन ध्यान रहे अनार के पत्ते का पेस्ट आंखों के अंदर ना डालें।


आंखों की सेफ्टी के लिए क्या करें- what to do for eye safety

eyes care tips hindi

  1. यदि किसी कारणवश आंखों में चोट लग जाती है। या कीड़े मकोड़े घुस जाते हैं, या फिर कोई खरोच आ जाता है। तो यह आंखों के लिए नुकसानदायक होता है। ऐसी स्थिति में लापरवाही मत करें। प्राथमिक उपचार के बाद अपने नजदीकी डॉक्टर से संपर्क करें।
  2. इसके अलावा आंखों की कुछ ऐसी समस्याएं है, जो चोट लगने के कारण नहीं होती हैं। इसका कारण कुछ भी हो सकता है। जैसे धूल मिट्टी का कण आ जाने से आंखों में सूजन आ जाना, आंखों का लाल हो जाना। अगर ऐसी स्थिति दो से तीन दिन तक लगातार रहती है। तो आप तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।

  3. आंखों का दर्द, जलन और लाल हो जाना रसायनिक चोट पर भी निर्भर होता है। आपको बता दें कई लोग ऐसे क्षेत्र में रहते हैं। जहां फैक्ट्रियां, चीनी मिल और औद्योगिक फैक्ट्री पर्याप्त मात्रा में होते हैं।
  4. जिनके रसायन से आंखों को नुकसान पहुंचता है। और आंखों में जलन और दर्द होने लगता है। ऐसे में रासायनिक चोट से बचने के लिए indoor और outdoor पौधों का प्लांट लगा सकते हैं। जिससे आपके घर की हवा शुद्ध रहती है। आंखों को हानि पहुंचाने से बचाता है।
  5. बाइक चलाते समय आंखों में धूल, बालू के कण पड़ जाते हैं। जिसे हम इग्नोर कर देते हैं। ऐसे में हमें लापरवाही नहीं करनी चाहिए। आंखों को भरी बाल्टी के पानी में डुबोना चाहिए। जिससे धूल मिट्टी बालों के कण आदि आसानी से बाहर निकल जाते हैं। और आंख का दर्द तुरंत गायब हो जाता है।
  6. आंखों की सेफ्टी के लिए किसी भी ऐसे प्रवेश में न रहे, जहां पर आप की आंखों को हानि पहुंच सकता है। जैसे गुल्ली डंडा, धनुष तीर के खेल से दूर रहे।
  7. आंखों को रगड़ने से बचें। बिना जानकारी के कोई भी उपचार ना करें। किसी भी तरह का drop का इस्तेमाल ना करें। ड्रॉप का इस्तेमाल करने से पहले चिकित्सीय सलाह जरूर लें।
  8. यदि आपको अचानक देखने में धुधलापन महसूस हो रहा हो। तो ठंडे पानी से आंखों पर छींटा मारे। इससे आंखों को तुरंत लाभ मिलेगा।
  9. वाहन चलाते समय या फिर risky काम करते समय सेफ्टी के लिए आंखों पर चश्मा जरूर लगाएं। इसे आंख को नुकसान नहीं पहुंचता है।
  10. दर्द होने पर आंखों को रगड़ने से बचें। और उस पर आईवाश का प्रयोग करें।

Leave a Reply